Haryanvi Folk singer ‘Sarangi Wadak’ Partap Jogi and Surjmal Jogi from VPO Biyana Khera dist Hisar.

Sarangi is a most popular mujical instrumant of Haryana. We introduce to all of you about ‘Sarangi Wadan’ throw a performance by popular folk artists of Hisar. किस्से-कहानियाँ हरियाणवी संस्कृति का जीवंत अंग रहे हैं। कभी चौपालों पर सारंगी वादक जोगियों द्वारा जब किस्सों की प्रस्तुति दी जाती थी तो सारंगी की तान पर उनके मुख से बहती लोक कथाओं की धारा जनमानस को बांध सा लेती थी। बिना किसी और वाद्यवृंद के अकेली सारंगी की तान पर गाए जाने वाले ये किस्से श्रोताओं को इस तरह बांध लेते थे कि देर शाम से बैठे लोग भोर तक भी उठने का नाम नहीं लेते थे। आज के दौर में इस तरह के आयोजन बहुत कम हो गए हैं। अगर ये कहा जाए कि लुप्तप्राय ही हो गए हैं तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। हालांकि हरियाणा में कुछ जगह अब भी गर्मियों के दिनों में जोगी सारंगी पर राँझा गाने आते हैं। कई जगह जाहर वीर गुग्गा के बशेरे के आयोजन के दौरान भी सारंगी की तान पर किस्से गाए जाते हैं, लेकिन ये आयोजन बहुत कम होते हैं और एक पीढ़ी विशेष ही इसमें रुचि लेती है। अधिकतर उम्र दराज कलाकार ही गाने वाले होते हैं।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *